पिज्जा, बर्गर, मोमोज खाने वाले हो रहे अंधे ,जाने क्या है मामला?

पिज्जा, बर्गर, मोमोज, सैंडविच जैसे खाद्य पदार्थ खाना इन दिनों आम हो गया है। लोग जंक फूड का स्वाद इतना पसंद करते हैं कि उन्हें भूख लगने की तुलना में अधिक सेवन किया जाता है। लेकिन ऐसे खाद्य पदार्थ स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं। ऐसा भोजन कभी-कभी इतना भारी होता है कि इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है।
https://www.topnews99.com/2020/03/harmful-effects-of-junk-food.html

क्या Junk foods से अंधे हो सकते है लोग ?


आज कल काफी सारे लोग बाहर का खाना अच्छा लगता है लेकिन अधिक तर लोगो को जंक फ़ूड के शौकीन हो चुके है. आज topnews99 आपके लिए एक ऐसी जानकारी लेकर आये जिसमे एक ऐसा किस्सा आया है एक लड़के को जंक फ़ूड के कारण उसका आखो की रौशनी चली गयी ऐसा डॉक्टर का रिपोर्ट में खुलासा हुआ है. आइये देखते है पूरा मामला क्या है

कुछ समय पहले भी इसी तरह की रिपोर्ट आई थी जिसमें कहा गया था कि ब्रिटेन में एक युवक जंक फूड खाने के बाद बुरी नज़र रखता था। ब्रिटेन में मिली जानकारी के अनुसार, ब्रिटेन में एक युवक को जंक फूड खाना इतना पसंद था कि उसने लगातार 10 साल तक जंक फूड खाया। उसका पसंदीदा भोजन फ्रेंच फ्राइज़, चिप्स, चौड़ी रोटी, सॉस आदि थे।

इसके बाद वह अचानक मंद दिखने लगा। उसने डॉक्टर से संपर्क किया। जब डॉक्टर ने उससे पूछा, तो उसे पता चला कि उसे कोई भी सब्जी खाना पसंद नहीं है। उन्होंने पिछले सात सालों से कोई सब्जी नहीं खाई है। वह केवल जंक फूड खा रहा था। डॉक्टरों के अनुसार, जंक फूड का लगातार सेवन करने से उनके शरीर में विटामिन की कमी हो गई और उनकी आंखों की रोशनी चली गई।

जांच से पता चला कि युवक में आंख की चमक ऑप्टिक न्यूरोपैथी के कारण थी। यह समस्या उन बच्चों में होती है जिनके पास पौष्टिक आहार नहीं होता है। डॉक्टरों के अनुसार, युवक का बीएमआई सामान्य था लेकिन उसे विटामिन बी 12 की कमी थी। इस वजह से उसे 15 साल की उम्र में अपनी आंखों की रोशनी गंवानी पड़ी।

कई अध्ययनों में पाया गया है कि जंक फूड का सेवन करने से बच्चों में पोषण की कमी होती है और शारीरिक विकास बाधित होता है। जंक फूड पेट भर सकता है लेकिन यह आवश्यक पोषण प्रदान नहीं करता है। इसलिए, एक नियमित पोषण आहार खाना आवश्यक है।

जंक फूड खाने के 5 बड़े नुकसान


1. याद शक्ति कम होने की समस्याओं का कारण बन सकता है

ब्राउन यूनिवर्सिटी में किए गए एक अध्ययन से पता चलता है कि बहुत अधिक जंक फ़ूड और मिठाई हमारे शरीर में इंसुलिन के स्तर को काफी हद तक बढ़ा सकते हैं। जिसकी वजह से गुल्कोज की कमी होती है उसकी सीधी असर यादशक्ति पर होती है

2. भूख को नियंत्रित करने की क्षमता को कम करता है

जंक फूड का अधिक सेवन ट्रांस फेट के साथ इनको विस्थापित कर सकता है जो पचाने में कठिन होते हैं। 2011 के एक अध्ययन से पता चलता है कि ट्रांस फेट हाइपोथैलेमस में सूजन का कारण हो सकता है, मस्तिष्क का वह हिस्सा जिसमें शरीर के वजन को नियंत्रित करने के लिए न्यूरॉन्स होते हैं।

3. डिप्रेशन का शिकार

बहुत सारे अध्ययनों से पता चला है कि चीनी और फेट में उच्च खाद्य पदार्थ खाने से वास्तव में मस्तिष्क की रासायनिक गतिविधि बदल जाती है, आपको इस जंक फ़ूड की आदत लग जाती है.

इसकी लत लग जाने के बाद अगर आप इसे छोड़ ने की कोशिश करेंगे तो आपको तनाव और उदासी महसूस होने लगना शुरू हो जाएगा। आपक दिमाग उसके खाने तक डिप्रेशन का शिकार हो जाता है. आपका दिमाग को यही लगेगा की यही सच्ची ख़ुशी है.

4. कैंसर के खतरे को बढ़ाता है

एशियन पैसिफिक जर्नल ऑफ कैंसर प्रिवेंशन में प्रकाशित एक अध्ययन में फास्ट फूड की खपत और पेट के कैंसर के खतरे के बीच संबंध दिखाया गया है। अध्ययन के नतीजों में पाया गया कि फास्टफूड, पोटैटो चिप्स और कॉर्न चिप्स जैसे फास्ट फूड खाने से पेट के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

Post a Comment

0 Comments